शुक्रवार, 1 नवंबर 2013

मन गई दिवाली








गम की अमावस में न डाल हथियार तू
एक दीप तो हौले से जरा उजियार तू।

रोशनी की हर किरण चीरती है अंधेरा
देख रख हौसला, न मान हार तू।

मन में अगर हो आस तो पूरी करेंगे हम
यह ठान के ह्रदय में, बढ आगे यार तू।

जितनी है सोच काली उसे मांज के हटा
फिर देख अपने मन को यूँ चमकदार तू।

अपनी खुशी के फूल चमन में बिखेर दे
तो बहेगी खुशबू वाली, लेना बयार तू।

तेरे मन की रोशनी से हो उजास आस पास
तब मन गई दिवाली यही जान यार तू।






18 टिप्‍पणियां:

sushma 'आहुति' ने कहा…


खुबसूरत अभिवयक्ति...... शुभ दीपावली

निहार रंजन ने कहा…

दीवाली की शुभकामनायें.

रविकर ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति-
आभार आदरणीया-

आप सभी को --
दीपावली की शुभकामनायें-

राजीव कुमार झा ने कहा…

बहुत सुन्दर.दीपावली की शुभकामनाएँ.
नई पोस्ट : दीप एक : रंग अनेक

vandana gupta ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति………

काश
जला पाती एक दीप ऐसा
जो सबका विवेक हो जाता रौशन
और
सार्थकता पा जाता दीपोत्सव

दीपपर्व सभी के लिये मंगलमय हो ……

Reena Maurya ने कहा…

बहुत ही सुन्दर रचना..
दीपावली कि हार्दिक शुभकामनाएँ :-)

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

बहुत ही सुंदर रचना.

दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं.

रामराम.

Alpana Verma ने कहा…

अँधेरे में रौशनी दिखाती प्रेरक कविता.
दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ .

धीरेन्द्र सिंह भदौरिया ने कहा…

बहुत सुंदर गजल ,,,
दीपावली की हार्दिक बधाईयाँ एवं शुभकामनाएँ ।।
==================================
RECENT POST -: तुलसी बिन सून लगे अंगना

Virendra Kumar Sharma ने कहा…

उत्सव त्रयी मुबारक।

गम की अमावस में न डाल हथियार तू
एक दीप तो हौले से जरा उजियार तू।

रोशनी की हर किरण चीरती है अंधेरा
देख रख हौसला, न मान हार तू।

अपनी वोट को यूं सस्ते में न डाल तू ,

काम ले प्रज्ञा से फिर देख कमाल तू।

बहुत सुन्दर जीवन के उजले पक्ष में रंग भर ती पोस्ट।

अमावस में पूर्णिमा उतार तू ,

ज़िंदगी को प्यार से निहार तू।

Suman ने कहा…

तेरे मन की रोशनी से हो उजास आस पास
तब मन गई दिवाली यही जान यार तू।
बहुत ही सुंदर रचना ...
दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं.

mahendra mishra ने कहा…

दीपावली पर्व की हार्दिक बधाई शुभकामनाएं ....

दिगम्बर नासवा ने कहा…

काली सोच को हटा देना ही अच्छा ... फिर चमत्कार होगा .. सार्थक प्रस्तुति ..
दीपावली के पावन पर्व की बधाई ओर शुभकामनायें ...

Sushil Kumar Joshi ने कहा…

बहुत सुंदर दीपोत्सव शुभ हो !

jyoti khare ने कहा…

वाह!!! बहुत सुंदर !!!!!
उत्कृष्ट प्रस्तुति
बधाई--

उजाले पर्व की उजली शुभकामनाएं-----
आंगन में सुखों के अनन्त दीपक जगमगाते रहें------

शिवनाथ कुमार ने कहा…

मन का दीप जले
तो अंधियारा जीवन का दूर हो

बहुत सुन्दर रचना
सादर !

Shikha Gupta ने कहा…

खूबसूरत .रचना ....

Swapnil Shukla ने कहा…

अति उत्तम एवं प्रशंसनीय . बधाई
हमारे ब्लॉग्स एवं ई - पत्रिका पर आपका स्वागत है . एक बार विसिट अवश्य करें :
http://www.swapnilsaundaryaezine.blogspot.in/2013/11/vol-01-issue-03-nov-dec-2013.html

Website : www.swapnilsaundaryaezine.hpage.com

Blog : www.swapnilsaundaryaezine.blogspot.com